Tuesday, 13 June 2017

प्लेंटीमोन और चंडाल चौकड़ी का पलटवार

चंडाल चौकड़ी प्रिंसेस को किडनैप करने का प्लान बनाती है। उसके लिए वो प्रिंसेस के स्कूल जाते हैं। तभी एक तेज हवा का झोंका आता है और उन चारो को उड़ाकर ले जाता है। दूसरी तरफ प्लेंटीमोन के घर में डायनिंग टेबल पर लोला,चींटिया,ब्रूस,प्रिंसेस और प्लेंटीमोन सभी ब्रेकफास्ट कर रहे होते हैं। तभी प्रिंसेस ब्रूस से पूछती है कि उसने किसी टाइम गेप के बारे में बताया था? क्या वो डिटेल में बताएगा कि टाइम गेप का क्या माजरा है? ब्रूस बताता है कि कुछ इविल फोर्सेज धरती पर स्पेस टाइम गेप से गुजर कर हमला करने वाली हैं। उसी गेप को सील करने के लिए उसे प्लेंटीमोन की मदद चाहिए। 

प्लेंटीमोन उससे उस जगह के बारे में पूछता है कि वो कहाँ पर है? ब्रूस कहता है उसे नहीं मालूम। वह सिर्फ इतना जानता है कि जहां भी वो इविल फोर्सेज हैं, वहां पर कुछ अजीबोग़रीब घटनाएं होती रहती हैं। लोला और चींटिया प्रिंसेस को बताते है कि आजकल स्कूल में अजीब सी घटनाए हो रही हैं। प्रिंसेस और प्लेंटीमोन फैसला करते हैं कि वो स्कूल जायेंगे और वहां जाकर सारा माजरा जानेंगे। 



प्रिंसेस,प्लेंटीमोन,लोला,चींटिया और ब्रूस स्कूल की तरफ जाते हैं और तभी वहां एक धुए का गुबार आता है जो प्रिंसेस और लोला को उठा कर ले जाता है। प्लेंटीमोन और ब्रूस के बीच थोड़ी सी नोंकझोक हो जाती है। तभी चंडाल चौकड़ी वहां आती है और उन्हें बताती है कि प्रिंसेस और लोला उनके कब्जे में हैं और उन्हें पानी के टैंक में रखा गया है। उनके पास उन दोनों को बचाने के लिए केवल तीन घंटे का वक़्त है।     

डिंगडिंग कहता है कि अगर वो उन्हें बचाना चाहते हैं तो पुराने वेयर हाउस पर चले जाएं। इधर डिंगडिंग और डिंगडोंग भी उस शैतान से मिलते है जिसने लोला को किडनैप करवाया है। पता चलता है की वो कोई और नहीं बल्कि मैन-मैन है। डिंगडोंग कहता है कि क्यों न लोला और प्रिंसेस को मार दिया जाए। लेकिन वो शैतान कहता है कि अभी वो उन्हें जिन्दा रखना चाहता है और उनके सहारे प्लेंटीमोन और चींटिया को बुलाना चाहता है।

प्लेंटीमोन,चींटिया और ब्रूस तीनो ही वेयर हाउस चले आते हैं जहां उनका सामना जादुई ताक़त से होता है। प्लेंटीमोन और चींटिया बच जाते हैं उन पर सिल्वर नीडल से हमला होता है। प्लेंटीमोन चींटिया को वेयर हाउस की खिड़की तोड़ने का आदेश देता है। खिड़की के टूटते ही सारा मायाजाल खत्म हो जाता है। डिंगडिंग प्लेंटीमोन से कहता है की उसे उम्मीद नहीं थी कि उसका मायाजाल इस तरह से टूट जाएगा। प्लेंटीमोन उसे चेतावनी देता है कि वो प्रिंसेस को छोड़ दे लेकिन चंडाल  चौकड़ी उन दोनों पर हमला करती हैं। बबली मशरूम फायर करती है जिससे ब्रूस आग के बीच में फंस जाता है और चींटिया बेहोश हो जाता है।

बहुत मुश्किल से प्लेंटीमोन चींटिया को होश में लाता है और कहता है कि ब्रूस की जान खतरे में है। फिर प्लेंटीमोन चींटिया को डायमंड बम देता है जिससे वो ब्रूस को बचा लेता है। फिर वह टैंकर पर हमला करता है, लेकिन टैंक टूट नहीं पाता। प्लेंटीमोन चींटिया को कहता है कि वो इस टैंक पर भारी सा एक बॉक्स गिरा दे। उसके बाद वो टैंक चकनाचूर हो जाता है। फिर डायमंड बम के गिरने से वो टैंक टूट जाता है। टैंक टूटने से डिंगडिंग और डिंगडोंग प्लेंटीमोन और उसके साथी पर हमला करते हैं। डिंगडिंग बबली को मशरूम फायर करने को कहता है। प्लेंटीमोन और चंडाल चौकड़ी कि शक्तियां आपस में टकराती हैं। दोनों के बीच भयंकर लड़ाई होती है।

अंत में जब प्लेंटीमोन पर हमला होता है तो प्रिंसेस उसे बचाने के लिए आती है। ये देखकर डिंगडिंग बबली को आदेश देता है कि वो जहरीले धुंए का वार करे। फिर मौके का फायदा उठा कर वो चारो भाग जाते हैं। प्रिंसेस अब यही जानना चाहती है कि उन्हें किसने भेजा था? ब्रूस कहता है कि कॉन्ट्रैक्ट में इतना दिमाग नहीं हैं तो प्रिंसेस कहती हैं की कहीं मैन-मैन ने तो नहीं भेजा था? इसी शक के साथ एपिसोड का अंत होता है।

समाप्त!!

     Click=>>>>>Hindi Cartoon for more....... 

Sunday, 4 June 2017

प्लेंटीमोन और जादूगरनी स्ट्रॉबेरी

प्लेंटीमोन अपने साथी चींटिया के साथ अपने कमरे में होता हैं| प्लेंटीमोन आज उसे अपने एडवेंचर कलेक्शन दिखाता हैं, जबकि चींटिया सो रहा होता हैं| प्लेंटीमोन अपने बारे में बताना शुरू करता हैं| वह कहता हैं कि कैसे उसने ड्रैगन का दांत तोडा था, फिर प्रिंसेस का गिफ्ट भी दिखाता हैं  लेकिन प्लेंटीमोन ये जानता ही नहीं कि चींटिया सो रहा हैं|

प्लेंटीमोन उसे अपने एडवेंचर ट्रिप के खजाने में से सबसे कीमती अपने पापा का एक एडवेंचर मैप दिखाता हैं और कहता हैं कि वह जल्दी ही इस जगह को ढूंडकर वहां पर जाएगा| तभी वह एक लॉकेट भी दिखाता हैं जो उसे उसके पापा ने दिया था|

वहीँ डिंगडिंग और डिंगडोंग भी प्लेंटीमोन के रूम में झाँक रहे होते हैं| वह कहते हैं कि आज अच्छा मौका हैं और छिप जाते हैं तभी प्लेंटीमोन देखता हैं कि चींटिया सो रहा हैं| वह उसे गुस्सा करता हैं क्योकि उसने उसकी पूरी बात ही नहीं सुनी दोनों में लड़ाई हो जाती हैं और फिर फ़ोन की घंटी बजती हैं|

जिसे उठाने के लिए प्लेंटीमोन जाता हैं और चींटिया से कहता हैं कि वह उसके किसी सामान को हाथ ना लगाए, थोड़ी ही देर में प्लेंटीमोन की मम्मी भी उस रूम में सफाई करने आती हैं|

कुछ देर बाद वहां पर डायनिंग रूम में चींटिया,लोला,प्रिंसेस और प्लेंटीमोन  की मम्मी बैठे हुए और सभी टीवी देख रहे होते हैं| तभी प्लेंटीमोन गुस्से में वहां आता हैं और अपनी मम्मी से सवाल करता हैं कि उन्होंने उसके कमरे की सफाई की हैं तो उन्हें कोई मैप मिला जो उसे उसके पापा ने दिया था|

उसकी मम्मी इस बात से इनकार कर देती हैं और कहती हैं वह अपने पापा की तरह दिन में सपने न देखा करे ये उसे बिल्कुल भी पसंद नहीं हैं और प्लेंटीमोन भी उसे गुस्से में कहता हैं कि उसे एक एक्स्प्लोरर बनना हैं इन्वेन्टर नहीं| प्रिंसेस भी प्लेंटीमोन से कहती हैं कि वह अपनी मम्मी से इस तरह से बात न किया करे ये उसे बिल्कुल भी पसंद नहीं हैं|

प्रिंसेस सबके लिए ब्रेकफास्ट बनाती हैं और वह प्लेंटीमोन को भी नाश्ते के लिए बुलाती हैं| प्लेंटीमोन पूछता हैं कि ये नाश्ता उसने बनाया हैं उसी बात पर लोला प्रिंसेस को प्लेंटीमोन की मम्मी बुलाती हैं| जिस पर प्रिंसेस कहती हैं कि बकवास बंद करो लोला| प्लेंटीमोन जब नाश्ता कर रहा होता हैं, तभी वहां उसकी मम्मी भी आ जाती हैं| 



प्रिंसेस उनसे नाश्ते के लिए पूछती हैं लेकिन वह कहती हैं उन्हें टाइम नहीं हैं लेट हो रहा हैं और वह चली जाती हैं| फिर प्लेंटीमोन भी नाश्ता नहीं करता और चला जाता हैं तब प्रिंसेस गुस्से में सारा नाश्ता लोला को खिला देती हैं|

उधर दूसरी तरफ प्रिंसेस से बदला लेने के लिए चंडाल चौकड़ी डिंगडिंग, डिंगडोंग और बबली भी अपनी-अपनी तैयारी कर रहे होते हैं| डिंगडिंग और डिंगडोंग चुपके से प्लेंटीमोन का मैप चुरा लेते हैं| डिंगडिंग और डिंगडोंग दोनों बबली से कहते हैं कि प्लेंटीमोन और प्रिंसेस अपने जाल में खुद ही फसेंगे|

इधर प्रिंसेस टीवी पर देखती हैं कि कल मदर्स डे हैं| फिर वह लोला और चींटिया के साथ केक बनाने की तैयारी करने लगती हैं| वह किचन में केक बना रही होती हैं और वही रूम में प्लेंटीमोन को धुंआ नजर आता हैं|

प्लेंटीमोन प्रिंसेस से पूछता हैं कि किचन में धुंआ कहा से आ रहा हैं? प्रिंसेस कहती हैं दिखाई नहीं देता कि मैंने केक बनाया हैं, कल मदर्स डे हैं| इसीलिए हमने आंटी के लिए केक बनाया हैं| फिर प्लेंटीमोन बताता हैं की उसके पास एक और नया प्लान हैं जिससे कि वो मम्मी को खुश कर सकता हैं| ये सब नजारा बाहर से चांडाल चौकड़ी देख रही होती हैं|

अपने मैजिक से वो किचन में टेबल से बर्तन गिरा देती हैं| फिर प्रिंसेस और प्लेंटीमोन में लड़ाई शुरू हो जाती हैं और प्लेटीमोन कहता हैं कि उसने कुछ नहीं किया तभी प्रिंसेस कहती हैं, ये बर्तन अपने आप गिर गए हैं क्या? फिर उन दोनों में लड़ाई शुरू हो जाती हैं| वही चंडाल चौकड़ी ये देखकर खुश होती हैं और वे सब मौके का फायदा उठाना चाहती हैं|

प्लेंटीमोन और प्रिंसेस आपस में लड़ते रहते हैं उधर स्ट्रॉबेरी जादूगरनी अपनी काली शक्तियों से एक स्ट्रॉबेरी स्पिरिट को वहां भेज देती हैं| जो पूरे घर में एक तूफ़ान सा मचा कर रख देती हैं| तभी प्रिंसेस लोला को खिडकिया और चींटिया को दरवाजे बंद करने के लिए कहती हैं|

प्रिंसेस और प्लेंटीमोन उस स्पिरिट से लड़ते हैं और बाहर खड़े डिंगडोंग अपने जादू से प्लेंटीमोन को अँधा कर देते हैं| यहाँ वो स्पिरिट उन पर स्ट्रॉबेरी का अटैक कर देती हैं और वो सब चिपक जाते हैं| प्लेंटीमोन अपनी आँखें बंद होने के कारण प्रिंसेस पर पानी फेंकता हैं, पानी से जादुई स्ट्रॉबेरी साफ़ हो जाती हैं|

इस तरह से फिर से डिंगडोंग उन सब पर धुँए का अटैक करता हैं| उस धुए को देखकर स्ट्रॉबेरी स्पिरिट उन पर फिर से हमला करती हैं लेकिन इस बार ये अटैक बाहर खड़े डिंगडोंग पर होता हैं और वो लोग चिपक जाते हैं अंत में प्लेंटीमोन अपनी शक्तियां लेकर लोला,चींटिया और प्रिंसेस के साथ ये जंग जीत जाता हैं|

फिर सभी मिलकर घर को साफ़ करते हैं जो काफी गन्दा नजर आता हैं|

और फिर से एक बार प्लेंटीमोन अपनी जादुई शक्ति से बुराई को मात देता हैं|

समाप्त!!
Click  =>>>>> Hindi Cartoon  for more....... 

Friday, 2 June 2017

पंचतंत्र की कहानी - खटमल और मच्छर

बहुत पुरानी बात है। एक राजा था। वह जब भी अपने शयन कक्ष में आराम करने आता, एक खटमल उसके बिस्तर के नीचे से निकल कर उसके पैर के तलवे पर डंक मारकर उसका खून चूसता। राजा का खून चूस कर वह खटमल काफी मोटा हो गया था|

एक दिन राजा के कमरे कि खिड़की खुली रह गई। वहां बाहर से एक मच्छर उड़ता हुआ अन्दर आ गया। खटमल ने मच्छर के भिनभिनाने कि आवाज सुनी तो वह अपने छिपने की जगह से बाहर आ गया। बाहर आकर उसने देखा की एक मच्छर बड़ी तेजी से उस शयन कक्ष में उड़ रहा है। खटमल ने मच्छर को देख कर पुछा कि तुम यहाँ किसकी इजाज़त से आये हो?

मच्छर खटमल की बात सुनकर जवाब देता है कि सामने की खुली खिड़की से वह अंदर आया है। उसका जवाब सुनकर खटमल कहता है की यह राजा का शयन कक्ष है, और यहाँ आने के लिए अनुमति लेनी पड़ती है। मच्छर कहता हैं कि वह एक नादान मच्छर है और कहीं भी बेरोक-टोक के आ जा सकता है| उसे कहीं भी आने-जाने के लिए किसी की भी अनुमति कि जरूरत नहीं होती। मच्छर से ऐसा जवाब सुनकर खटमल ठिठक जाता है और फिर अपने आप को सँभालते हुए बोलता है कि तुम कहीं भी आ जा सकते हो लेकिन ये राजा का शयन कक्ष है और तुम यहाँ मेरी अनुमति के बगैर नहीं रह सकते। यहाँ से दफा हो जाओ।


तुरंत मच्छर कहता है मैं क्यो नहीं रह सकता? इस शयन कक्ष पर क्या तुम्हारा ही राज है? तुमने तो राजा का खून पीकर अपनी अच्छी सेहत बना रखी है और मुझे देखो मैं कितना कमजोर हूँ। अगर तुम मेरी मदद नहीं करोगे तो कौन करेगा? आखिर भाई ही तो भाई के काम आता है।

 मच्छर से जवाब सुनकर खटमल कहता है की राजा का खून पीने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। वह कहता है की राजा का खून चूसने के लिए राजा का गहरी नींद में सोने का इंतजार करना पड़ता है और फिर उसके तलवों पे डंक मार कर उसका खून चूसना पड़ता है। खटमल की बात सुनकर मच्छर कहता है कि तुम बहुत पँहुचे हुए खिलाड़ी हो।

खटमल इतराते हुए कहता है कि इसमें कोई शक नहीं है और अगर एक बार राजा की नींद टूट जाए तो छुपकर फिर से उसका गहरी नींद में सोने का इंतजार करना पड़ता है। मच्छर ये सुनकर कहता है की अच्छा है तुमने मुझे खून पीने का तरीका बता दिया। तुम तो रोज ही राजा का खून पीते हो। आज मुझे पीने दो।

 खटमल और मच्छर दोनों छिपकर राजा के आने का इंतजार करने लगते हैं। तभी राजा आकर बिस्तर पर सो जाता है। खटमल के समझाने पर भी मच्छर भिनभिनाता हुआ राजा के हाथ पर जाकर बैठ जाता है और उसको डंक मारता है। राजा की आँख खुल जाती है और वह अपने सेवको को बुलाता है और उनसे कहता है कि सेवको, इस बिस्तर में अवश्य ही कोई कीड़ा है। तुम शीघ्र उसे ढूढ़ कर मार डालो।

राजा के सेवक बिस्तर को टटोलते हैं और उन्हें बिस्तर के अन्दर खटमल छिपा हुआ मिलता है। वह उसे गिराकर मार देते हैं। मच्छर उस खटमल को मरा देख चला जाता है। इस प्रकार मच्छर के झांसे में आकर खटमल अपनी जान गवा देता है।

सारांश: हमें कभी भी, किसी के झांसे में नहीं आना चाहिए।

समाप्त !!

Click  =>>>>> Hindi Cartoon  for more Panchatantra Stories.......