Thursday, 31 August 2017

प्लेंटीमोन: समुराई सनी और हवा हवाई माता


टिम्बकटू का राज कुमार जोम्बी पर नाराज होता है। जोम्बी उससे अपने अपराध की क्षमा मांगता है। प्रिंसेस और प्लेंटीमोन जोम्बी को ढूंडते हुए जंगल आते हैं। प्रिंसेस पूछती है की जोम्बी कहा खो गया है? ब्रूस प्रिंसेस से कहता है की धुंद के रास्ते पर चलकर जोंबी के पैरो के निशाँन ढूंडने काफी मुश्किल हैं। प्लेंटीमोन कहता है की अगर वह उसे ऐसे ही ढूंडते रहेंगे तो रास्ता भटक जाएंगे। प्रिंसेस गुस्से में कहती है की अब तुम हमें बताओगे कि क्या करना है? तभी लोला इशारा करती है। तब उन्हें वहां पर एक वुड स्पिरिट नजर आती है, और उसे काफी चोट आती है।

प्लेंटीमोन उसकी चोट ठीक करता है। वुड स्पिरिट के ठीक होने पर प्रिंसेस पूछती है की उसे क्या हुआ था? इतनी सारी चोट कैसे लग गई? वुड स्पिरिट बताती है की एक अजीब सा वुड स्पिरिट बेबी आया था और उसने लड़ने के लिए चैलेंज किया था। अपनी ताकत दिखाने के लिए उसने मार-मार कर उसकी ये हालत कर दी थी।

प्रिंसेस और प्लेंटीमोन ब्रूस को वुड स्पिरिट का ख्याल रखने के लिए कहते हैं। वुड स्पिरिट बताता है की वह उसे ढूंड नहीं पाएंगे और उसने ऐसा वुड स्पिरिट बेबी आज तक नहीं देखा। जोम्बी को देखकर उन सबकि नोकझोंक शुरू हो जाती है। जोम्बी कहता है की प्लेंटीमोन और प्रिंसेस ने उसकी प्लानिंग बार-बार बिगाड़ी है, उन्हें जिन्दा नहीं रहना चाहिए। जोम्बी उन पर करंट वाले पंजे से अटैक करता है की तभी एक अजीब सी ताकत आकर उसे रोक देती है। जोम्बी उससे उसके बारे में पूछता है कि हमारी लड़ाई के बीच मैं पड़ने वाले यह कौन है? तो उसे जवाब मिलता है समुराई सनी।

प्लेंटीमोन जोम्बी को खत्म करने के बारे में सोचता है की सनी उसे रोकते हुए कहता है की यह सिर्फ उसकी जंग है, कोई बीच में नहीं आएगा। और फिर समुराई सनी और जोम्बी के बीच लड़ाई छिड जाती है। जोम्बी को सामुराई रोकता है लेकिन वह डरकर भाग जाता है। तभी प्लेंटीमोन सनी को जोम्बी से बचाने के लिए शुक्रिया बोलता है, लेकिन वह बिना कुछ कहे वहां से चला जाता है। ब्रूस भी वहां आता है और उन सबको आवाज लगाता है। प्रिंसेस बताती है की उन्होंने अभी जोम्बी को देखा। वह बहुत शक्तिशाली है।

डाओडिंग कहता है की किस्मत अच्छी थी, जिसकी वजह से एक समुराई वुड स्पिरिट ने उन्हें बचा लिया। खुशबू वुड स्पिरिट कहती है की क्या ये वही है जो बम्बू की टोपी पहनता है और लम्बा सा है? प्लेंटीमोन कहता है की, हाँ - यह वही है। तो खुशबू जवाब देती है की उसी ने अपने विरोधी वुड स्पिरिट पर हमला किया था। प्लेंटीमोन पूछता है की अगर ऐसा है तो सनी ने उन्हें क्योँ बचाया?

चींटिया कहता है कि उन्हें समुराई से मिलकर ज़ोम्बी से लड़ना चाहिए। ऐसा कर के वह जोम्बी को हरा सकते हैं। तभी ब्रूस उन्हें कहता है कि उन्हें हवा-हवाई माता से मिलना चाहिए। वह बताता है की लोग कहते हैं कि बलशाली पवन ने अपनी माता को कहीं छिपा रखा है। उसकी माता को निबटने का तरीका पता होगा।

ब्रूस कहता है की उसे पक्का मालूम हैं की वह पास कि वैली में रहती है। लेकिन वह थोड़ा सा सनकी है। वहीँ दूसरी तरफ चंडाल चौकड़ी प्लेंटीमोन और प्रिंसेस का पीछा करती है। डिंगडोंग कहता है की उसे ऐसे ही मौके की तलाश थी। डिंगडिंग पूछता है की कैसा मौका? डिंगडोंग उसे मारते हुए कहता है की सुना नहीं - उसकी माँ किसी वैली में छुपकर रहती है। वह पहाड़ी में छिपकर जायेंगे और हमला करेंगे और किस्मत से वह तैयारी भी करके आया है।

प्लेंटीमोन ब्रूस से पूछता है की क्या उसे पक्का पता है कि पवन ने अपनी माता को वहीँ छिपा रखा है? प्रिंसेस कहती है की चलो फिर देर किस बात की। प्रिंसेस और प्लेंटीमोन दोनों पहाड़ी से नीचे जाने की कोशिश करते हैं। तभी चींटिया गिर जाता है और डाओडिंग उसे अपनी बेल से पकड़ लेता है। प्लेंटीमोन कहता है की अब तो एक ही रास्ता बचा है और वो ये है की उन्हें पहाड़ी से नीचे उतरना होगा।

तभी हवा-हवाई माता को सूचना मिलती है की उनसे मिलने कुछ लोग आ रहे हैं। हवा हवाई माता कहती है की किसी भी तरह से उन्हें रोकना होगा। प्लेंटीमोन और प्रिंसेस दोनों पहाड़ी से उतर रहे होते हैं की तभी उन पर हमला होता है। लोला रोने लगती है और प्रिंसेस उसे चुप करने के लिए कहती है। प्रिंसेस ब्रूस से कहती है यह क्या हो रहा है? ब्रूस कहता है उसने बताया था की सेफ्टी का इंतजाम चाउमीन की करामात है। साथ ही साथ चंडाल चौकड़ी उन्हें घेरने का प्लान बनाती है। तभी प्रिंसेस, प्लेंटीमोन और चंडाल चौकड़ी सभी पहाड़ी से नीचे गिर जाते हैं।  


Click=>>>>>Hindi Cartoon for more........   

Monday, 28 August 2017

पंचतंत्र की कहानी - बन्दर और मगरमच्छ


एक समय की बात है, जंगल में नदी के किनारे जामुन के पेड़ पर टिंकू नाम का बन्दर रहता था। उसी नदी के अन्दर एक मगरमच्छ भी रहता था। एक दिन टिंकू उस पेड़ के मीठे-मीठे जामुन खा रहा था कि तभी मगरमच्छ उसे देख लेता है और उससे कहता है, "ये तुम क्या खा रहे हो मित्र?" टिंकू जवाब देता है, "मैं जामुन खा रहा हूँ। ये जामुन बड़े ही मीठे और स्वादिष्ट होते हैं। क्या तुम खाना चाहोगे?" ऐसा कहकर बन्दर जामुनों को मगरमच्छ की तरफ फेकने लगता है। मगरमच्छ बन्दर के पास रोज जामुन खाने जाने लगता है और इस तरह से बन्दर और मगरमच्छ के बीच गहरी दोस्ती हो जाती है।

मगरमच्छ अब हर रोज जामुन खाता और अपनी पत्नी के लिए भी ले जाता। मगरमच्छ की पत्नी भी रोज मीठे जामुनों का इंतजार करती। मगरमच्छ कि पत्नी जामुन खाते हुए सोचती है की उस बन्दर का दिल इन मीठे जामुन के खाने से कितना मीठा हो गया होगा। अगर उसे बन्दर का दिल मिल जाए तो मजा आ जाए। फिर वह अपने पति को बन्दर का दिल लाने के लिए मनाने की तरकीब सोचती है।

वह अपने पति से बन्दर का दिल लाने के लिए कहती है तो मगरमच्छ बहुत हैरान होकर बोलता है, "यह तुम क्या कह रही हो?! ऐसा नहीं हो सकता। यह ख्याल अपने दिल से निकाल दो। बन्दर मेरा मित्र है। मै उसके बारे में ऐसा सोच भी नहीं सकता।" मगरमच्छ की पत्नी बोलती है, "मै सोचती थी कि तुम सिर्फ मुझसे ही प्रेम करते हो पर आज पता चल गया कि तुम मुझसे भी ज्यादा अपने मित्र से प्रेम करते हो। मै तब तक कुछ नहीं खाऊँगी जब तक तुम मुझे बन्दर का दिल लाकर नहीं दोगे।"

मगरमच्छ उसे समझाने की बहुत कोशिश करता है लेकिन वो नहीं मानती। पत्नी के जिद के आगे आखिरकार मगरमच्छ बन्दर का दिल लाने के लिए हामी भर देता है और एक चाल चलता है। वह बुझे और दुखी मन से बन्दर के पास पहुचता है,और पेड़ के नीचे बन्दर का इंतजार करता है। बन्दर रोज की तरह ख़ुशी से उछलता हुआ आता है और मगरमच्छ उसे अपनी बातो में फुसलाते हुए कहता है कि उसकी भाभी ने मीठे जामुन के लिए उसका शुक्रिया अदा किया है और उसे अपने घर खाने पर बुलाया है।

बन्दर खुश होकर कहता है, "इसमें शुक्रिया करने की कौन सी बात है? अगर भाभी ने दावत पर बुलाया है तो में जरूर चलूँगा।" बन्दर कूदकर मगरमच्छ की पीठ पर बैठ जाता है।

बन्दर मन ही मन अच्छे व्यंजन के बारे में सोचने लगता है। मगरमच्छ के दिल में ये ख्याल आता है कि अब हम नदी के बीच में आ गए हैं तो बन्दर कहीं भी नहीं जा सकता। दोस्ती के फर्ज की खातिर वह बन्दर को सब-कुछ बता देता है। वह हिचकिचाते हुए बोलता है, "दोस्त, अगर तुम्हारी कोई आखिरी इच्छा है तो मुझे बता दो। शायद ये तुम्हारा आखिरी दिन हो।" बन्दर डरते हुए बोलता है, "ऐसा क्यों कह रहे हो दोस्त? आखिरी इच्छा तो मरने वाले की पूछी जाती है। सच-सच बताओ तुम्हारे मन में क्या चल रहा है? तुम मुझे कहा ले जाना चाहते हो?"

मगरमच्छ बोलता है, "मित्र, मेरी पत्नी तुम्हारा दिल खाना चाहती है। उसने कसम खाई है कि जब तक वह तुम्हारा दिल नहीं खा लेती, वो और कुछ नहीं खायेगी। इसलिए मै तुम्हे उसके पास लेकर जा रहा हूँ।" बंदर ये सुनकर बहुत डरता है लेकिन अपने आप को सम्भालते हुए एक चाल चलता है।

बन्दर बोलता है, "तुमने मुझे पहले क्यों नहीं बताया? मैं अपना दिल तो पेड़ पर ही छोड़ आया। तुम मुझे पहले बताते तो मैं उसे अपने साथ लेकर आता। " ऐसा सुन कर मगरमच्छ कहता है, "अच्छा चलो। कोई बात नहीं। हम वापस जाकर दिल ले आते हैं।" मगरमच्छ पेड़ के पास आता है और बन्दर तपाक से उसकी पीठ से कूदकर पेड़ पर चढ़ जाता है।

मगरमच्छ उसे दिल लाने के लिए कहता है। लेकिन बन्दर गुस्से से बोलता है, "अरे मुर्ख, क्या कोई दिल के बिना भी जिन्दा रह सकता है? तेरी मेरी दोस्ती आज से सदा के लिए खत्म। चला जा यहाँ से और फिर कभी लौट कर मत आना।" मगरमच्छ शर्मिंदा हो कर लेकर लौट जाता है।

सारांश: कभी किसी पर आसानी से विश्वास नहीं करना चाहिए और मुसीबत में हमेशा सूझ-बुझ से काम लेना चाहिए।

 Click=>>>>>Hindi Cartoon for more Panchatantra Stories........  

Monday, 21 August 2017

प्लेंटीमोन और बादलों का समंदर


प्लेंटीमोन प्रिंसेस के साथ सेल सिटी की इंटेलिजेंस वैली में घूम रहा होता है की उसे बाला की शक्ल में एक वुड स्पिरिट नजर आती है। प्लेंटीमोन अपनी शक्ति का इस्तेमाल करने वाला ही होता है की ब्रूस आकर उसे रोकता है और कहता है कि वह बाला नहीं वासु है - एक अच्छी वुड स्पिरिट। प्लेंटीमोन के यह पूछने पर कि इसकी शक्ल बाला से क्यों मिलती - ब्रूस कहता है कि सेल सिटी में हर वुड स्पिरिट इश्वरी शक्ति से और अलग-अलग पेड़-पौंधों से मिलकर बनी हैं। वह दिखने में सब एक हैं लेकिन उनकी सोच अलग है।

ऐसा सुनकर प्लेंटीमोन वासु से दोस्ती कर लेता है। तभी प्लेंटीमोन को एक महल नजर आता है और प्रिंसेस उसे बताती है ये सेल सिटी की फ्लोटिंग सिटी है। प्लेंटीमोन एक अद्भुत महलनुमा नाव को देखकर प्रिंसेस से उसके बारे में पूछता है। प्रिंसेस उसे बताती हैं की इस नाव से बादलो के समन्दर में घुमा जा सकता है। प्रिंसेस बादलो के समन्दर में जाने के लिए कई नाविक से आग्रह करती है लेकिन सभी मना कर देते हैं। प्रिंसेस को एक नाव नजर आती है और वो प्लेंटीमोन और अपने सभी साथियों के साथ उस नाव में बिना पूछे बैठ जाती है।

चींटिया की तबियत ख़राब होने पर जब सब बाहर आते हैं तो नाविक उन्हें देख लेता है और उन्हें चोर समझता है। प्रिंसेस का नाविक से झगडा होने वाला होता है की प्लेंटीमोन प्रिंसेस को नाविक से उलझने के लिए मना कर देता है और वह नाविक को समझाता है कि उनका सैल सिटी में जाना बहुत जरूरी है।

आसमान में एक अजीब सी चीज नजर आती है। नाविक उसे देखकर डर जाता है और नाव नीचे गिर जाती है। प्लेंटीमोन की आँख खुलने पर वह देखता है कि प्रिंसेस,ब्रूस,लोला और चींटिया सब बेहोश पड़े हैं और वहां एक आदमी और एक औरत खड़े हुए हैं। प्लेंटीमोन उन्हें उन सबकी जान बचाने के लिए शुक्रिया करता है।

औरत प्लेंटीमोन से लंगोटिया के बारे में पूछती है तो प्लेंटीमोन चौंक जाता है। उसे एहसास होता है की ये तो वही है जो उनके साथ नाव पर था। प्रिंसेस के पूछने पर वो दोनों पति-पत्नी उन्हें बताते है कि वो ठीक है और उसे उन्होंने घर भेज दिया है। प्लेंटीमोन उन दोनों से काले जहाज़ के बारे में पूछता है तो वो आदमी बताता है कि बादलो का समंदर काफी शांत था, लेकिन कुछ दिनों से उस पर हमले होने की वजह से नाव डूब जाती है जिसकी तहत कोई भी नाविक वहां पर नहीं जाता।

प्लेंटीमोन के पूछने पर वो आदमी कहता है की हो सकता है तुम पर उसी काले जहाज़ ने हमला किया हो। प्रिंसेस के ये बताने पर कि लंगोटिया ने भी उनके साथ यहाँ आने से मना कर दिया था, औरत वोलती है कि उसके पिता नहीं है और वो ही अपना घर का खर्च चला रहा है। उसने इसलिए मना कर दिया था क्योकि वह किसी मुसीबत में नहीं पड़ना चाहता था।

प्लेंटीमोन प्रिंसेस को कहता है की सबको होश में लेकर आए। वो सब निकल जाते हैं। ब्रूस के पूछने पर कि वहां जाना सही है या नहीं - इस पर प्लेंटीमोन कहता है कि वो बस लंगोटिया कि किसी भी कीमत पर मदद करना चाहता है। प्लेंटीमोन के आवाज देने पर लंगोटिया उससे पूछता है वो कौन है और उसका नाम कैसे जानता है। प्लेंटीमोन उसे बताता है कि वह उसके बारे में सबकुछ जानता है।

लंगोटिया के पूछे जाने पर कि क्या वो उसकी मदद करेगा - प्लेंटीमोन के सभी साथी एक साथ बोलते हैं की वे उसके साथ हैं। लंगोटिया उन्हें अपने परिवार के हालात से रूबरू कराता है और कहता है की अगर उसके पापा होते तो काफी सुधार हो सकता है। प्रिंसेस उसे दिलासा देती है की उसके पापा उसे जरूर मिलेंगे।

उन्हें आसमान में एक काला जहाज़ नजर आता है और वो सब उस जहाज़ के अन्दर जाते हैं। उनका सामना एक अजीबो गरीब रहस्मयी ताकत से होता है। वह प्रिंसेस और लोला को अपने जाल में फंसा लेता है और फिर प्लेंटीमोन और चींटिया को भी फ़साने की कोशिश करता है। लेकिन वो उसकी पकड़ में नहीं आते।  प्लेंटीमोन के पूछने पर वह बताता है कि वो उसके लिए एक खिलौना है।

प्रिंसेस के पूछने पर कि वो कौन है - वह कोई जवाब नहीं देता और उन्हें तंग करता है। प्लेंटीमोन ये सब देखकर उसे अपने साथ खेलने के लिए कहता है वह अंजान शख्स बोलता है की अगर वह जीत गया तो उन्हें भी कैद कर लेगा। इस तरह से प्लेंटीमोन और उसके बीच एक खेल होता है जिसमे वो चीटिंग करके जीत जाता है।

फिर प्लेंटीमोन और उस ताकत के बीच लड़ाई छिड जाती है। वह अपना नकाब हटाता है और सब उसे देखकर हैरान हो जाते हैं कि वो एक वुड स्पिरिट है। तभी प्लेंटीमोन को एक और मुसीबत नजर आती है। बहुत तेज़ तूफ़ान आता है और नाव के डगमगाने पर वह वुड स्पिरिट गिराने वाली होती है। पर प्लेंटीमोन उसे बचा लेता है।

उसका नाम पूछने पर वो बताता है कि वह डाउनडिंग है और उसे किसी ने भेजा था बादलो के समन्दर की रक्षा करने के लिए। फिर प्लेंटीमोन उससे लंगोटिया के पापा के बारे में पूछता है तो डाउनडिंग उसे सब बता देता है। फिर वह सब साथ में सेल सिटी के लिए रवाना हो जाते हैं।  


 Click=>>>>>Hindi Cartoon for more........         

Thursday, 17 August 2017

प्लेंटीमोन और मिरर का मायाजाल


प्लेंटीमोन के स्कूल में क्लीनिंग डे मनाया जा रहा होता है जिस वजह से टीचर बच्चो को स्कूल की सफाई का काम सौपती हैं। दो गुट बनाए जाते हैं - एक में प्लेंटीमोन और प्रिंसेस तो दुसरे में गोगी और कीकू। प्लेंटीमोन और प्रिंसेस सफाई करने जाते हैं और प्रिंसेस सफाई करने से इनकार कर देती है। प्लेंटीमोन यह कहकर प्रिंसेस को मनाता है कि सफाई तो उन्हें करनी ही पड़ेगी क्योंकि आज क्लीनिंग डे है।     

प्रिंसेस गुस्से में लोला और चींटिया को सफाई का काम सौपती है। प्लेंटीमोन प्रिंसेस से कहता है की उन दोनों के काम करने से सबको इनके बारे में पता चल जाएगा। फिर प्रिंसेस सफाई का काम प्लेंटीमोन को सौंपती है। प्लेंटीमोन सारी सफाई करके जब प्रिंसेस के साथ घर जाता है तो गोगी और कीकू उसे देख लेते हैं।  उन दोनों को हैरानी होती है की इनका काम इतनी जल्दी कैसे निपट गया?! गोगी और कीकू दोनों छोटे पुल के पास जाते हैं और देखते है कि वहां सब साफ़ सुथरा है। वह उसे गंदा कर देते हैं।

मैन-मैन उनको ऐसी हरकत करते हुए देख लेता है। अगले दिन क्लास मैं प्रिंसेस और प्लेंटीमोन एक दूसरे से वुड स्पिरिट के बारे में बात कर रहे होते हैं की तभी क्लास में टीचर आती है और कहती है कि छोटे पुल की सफाई अच्छे से नहीं हुई। प्लेंटीमोन कहता है की ऐसा हो ही नहीं सकता। कल उसने प्रिंसेस के साथ मिलकर छोटा पुल साफ़ किया था। तभी कीकू खड़ा होता है और कहता है कि प्रिंसेस और प्लेंटीमोन ने ठीक से सफाई नहीं की है और वह बहाने बना रहे हैं। अगर उन्हें यह काम दिया गया होता तो वह ज्यादा अच्छे से करते।

इस बात पर टीचर कहती हैं की क्लास खत्म होने के बाद छोटे पुल कि सफाई का काम गोगी और किकू करेंगे। गोगी इस बात के लिए किकू को डांटता है और कहता है की उसकी वजह से वह मुसीबत में फंस गए। अचानक से मैन-मैन आता है और अपने साथी वुड स्पिरिट को आदेश देता है कि वो इन इंसानों को खत्म कर दे।

दूसरी तरफ प्लेंटीमोन के पास स्कूल टीचर का फ़ोन आता है कि गोगी और कीकू अभी तक घर नहीं पहुचे हैं। प्रिंसेस और प्लेंटीमोन उन्हें ढूंढ़ने जाते हैं। स्कूल के रास्ते से ही चंडाल चौकड़ी उनका पीछा करने लगती है। लेकिन वूड स्पिरिट उन्हें बंदी बनाकर पुल में कैद कर देती है। स्कूल में चींटिया को वुड स्पिरिट की खुशबू आती है और तभी वो वूड स्पिरिट उनके सामने आ जाती है। 

प्रिंसेस उससे कहती है कि तुम्हे किट्टीपाई ने भेजा है। वुड स्पिरिट प्रिंसेस से कहती है की उसे नहीं पता कि किट्टीपाई कौन है? पर वह उन सबको खत्म कर देगी। प्रिंसेस उससे पूछती है कि उसकी उनसे क्या दुश्मनी है? वूड स्पिरिट कहती है तुम सब घिनौने इंसान हो और तुमने पर्यावरण को नष्ट किया है|

फिर वह उन सब पर हमला करती है। प्रिंसेस से लड़ने के लिए वो मिरर का मायाजाल रचती है। लोला और चींटिया जब उसे तोड़ते है तो फिर से मायाजाल बन जाता है। वुड स्पिरिट के पीछे से चंडाल चौकड़ी उस पर हमला करती है, और आगे से प्लेंटीमोन। प्लेंटीमोन के वार से वो वुड स्पिरिट हार जाती है।  

अंत में प्लेंटीमोन और प्रिंसेस गोगी और कीकू को आज़ाद करवा देते हैं। सबके जाने के बाद वो वुड स्पिरिट तालाब से बाहर आ जाती है।



समाप्त!!



 Click=>>>>>Hindi Cartoon for more........      
 

Sunday, 6 August 2017

प्लेंटीमोन: लोला और चींटिया की बहादुरी



प्लेंटीमोन और प्रिंसेस से हारने के बाद वुड स्पिरिट स्कूल पूल में छिप जाती है। मैन-मैन पुल के पास आता है और पुल में डूबी हुई वुड स्पिरिट को बुलाता है। उसके काम न करने पर वो उसे डांटता है और कहता है की तुम किसी काम की वुड स्पिरिट नहीं हो। वुड स्पिरिट उससे एक और मौका मांगती है। मैन-मैन उसे एक और मौका देता है और कहता है यदि तुम फिर से असफल हुई तो तुम अपने अंजाम के लिए तैयार रहना। दूसरी तरफ प्लेंटीमोन के घर पर सभी डायनिंग टेबल पर बैठकर नाश्ता कर रहे होते हैं। प्रिंसेस आती है और कहती है कि उसका हेयर पिन नहीं मिल रहा है जिस पर प्लेंटीमोन जवाब देता है की उसका बैच भी नहीं मिल रहा। प्लेंटीमोन और प्रिंसेस दोनों प्रिंसेस के कमरे में जाकर उसकी हेयर पिन ढूंडते हैं लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिलता है।

तभी चींटिया की नजर फर्श पर पड़े वाटर मार्क पर जाती है और सब उसे देखते हैं। डिंगडोंग अपने सभी साथियो को ये खबर देता है कि प्लेंटीमोन और प्रिंसेस के पास उनका शक्ति पैटर्न नहीं है जिससे वह आसानी से उन्हें हरा सकते हैं। प्लेंटीमोन और प्रिंसेस उस वाटरमार्क के पीछे-पीछे स्कूल जाते हैं। चींटिया कहता है उसे एक वुड स्पिरिट की स्मेल आ रही है और उनके सामने चंडाल चौकड़ी आ जाती है।

प्रिंसेस उनसे पूछती है कि क्या उनके शक्ति पैटर्न उन्होंने चुराए हैं? इतने में वुड स्पिरिट आकर उन्हें अपने जाल में कैद कर लेती है। प्लेंटीमोन चींटिया को जाल काटने के लिए कहता है। चींटिया जाल काटकर उनको आजाद करवा देता है। प्रिंसेस लोला से अपनी शक्तियां इस्तेमाल करने के लिए कहती है। लोला मना कर देती है तो प्रिंसेस कहती है की वो खुद अपने हेयर पिन के लिए लड़ाई करेगी। प्रिंसेस पर हमला होता है और लोला बीच में आकर उसे बचा लेती है।

वुड स्पिरिट चिड कर फिर से लोला को वाटर शैल में कैद कर लेती है। प्लेंटीमोन चींटिया को वाटर शैल को तोड़ने का आदेश देता है लेकिन चींटिया भी लोला को वाटर शैल से आजाद नहीं करवा पाता। प्लेंटीमोन चींटिया को वुड स्पिरिट का ध्यान बटाने के लिए कहता है। इधर वुड स्पिरिट के सामने डिंगडिंग और डिंगडोंग आ जाते हैं। वो उन्हें पहचान लेती है और कहती तुम दोनों वही हो जिसकी वजह से मेरा काम बिगड़ा। मैं तुम्हे नहीं छोडूंगी। इतना कहते ही वह उन दोनों पर हमला करती है।

दूसरी तरफ चींटिया की मदद से प्लेंटीमोन वो बैच और हेयर पिन हासिल करता है और फिर प्रिंसेस और प्लेंटीमोन दोनों मिलकर वुड स्पिरिट पर हमला करते हैं जिससे वो भाग जाती है। तभी मैन-मैन आ जाता है और वो भी प्लेंटीमोन और उसके साथियो पर हमला करता है, लेकिन प्लेंटीमोन और उसके साथी बच कर भाग जाते हैं। 


Click=>>>>>Hindi Cartoon for more.......